सुप्रीम कोर्ट ने फांसी पर रोक से इनकार किया और खारिज कर दी पवन की याचिका…

0 220

सुप्रीम कोर्ट ने निर्भया के दोषी पवन कुमार की क्यूरेटिव पिटीशन की याचिका को आज खरिज कर दिया है चारो दोषियों को मंगलवार तीन मार्च को फ़ासी दी जानी है इस पर फांसी पर रोक लगाने वाले पवन कुमार की अर्जी को अस्वीकार कर दिया है दोषी पवन कुमार ने सुधारात्मक अर्जी लगायी थी सुप्रीम कोर्ट ने उसको रिजेक्ट कर दिया है इससे पहले भी बाकि तीनो दोषियों ने भी सुधारात्मक की याचिका लगायी थी पर उसको भी ऐसी बैंच ने अस्वीकार कर दिया था
ये याचिका पवन कुमार द्वारा इसलिए लगायी गयी थी की फांसी से बचने के लिए मात्र पवन कुमार के पास ये विकल्प बचा हुआ था परन्तु उसको भी कोर्ट ने खरिज कर दी अभी पवन के पास एक विकल्प और बचा है की वो राष्ट्रपति के पास अपने बचाव की अर्जी लगा सकता है ।


अदालत द्वारा दोषियों की फांसी से इनकार हो गया है उनकी अर्जी अदालत से खरिज हो चुकी है परन्तु अपने बचाव के लिए पवन कुमार राष्ट्रपति के पास अपने बचाव में याचिका लगा सकते है क्यों की निर्भया के चारो दोषियों को फांसी के लिए ३ मार्च की तारीख निश्चित की गयी है । फांसी से ठीक एक दिन पहले सुप्रीम कोर्ट की पांच सदस्यों वाली कमेटी ने पवन कुमार की सुधारात्मक अर्जी को खारिज कर दिया है उन्होंने कहा है की अदालत के पास इस मामले में दखलंदाज़ी करने का कोई अधिकार नहीं है ।


निर्भया के बाकी के तीनो दोषियों ने भी ऐसी अदालत में अपनी सुधारात्मक याचिका लगायी थी और उसको इसी बैंच द्वारा रिजेक्ट किया गया था । पवन कुमार ने ये भी अनुरोध किया था की वह निर्भया घटना के समय नाबालिग था परन्तु उसके इस तर्क को हाई कोर्ट और सुप्रीम कोर्ट द्वारा पहले ही निरस्त कर दिया गया था लोअर कोर्ट द्वारा १७ फरवरी को चारो दोषियों को फांसी का आदेश जारी कर दिया गया था और तीन मार्च को सुबह ६ बजे की तारीख निश्चित की गयी थी । पवन और अक्षय द्वारा फांसी का आदेश पर रोक लगाए जाने की अर्जी को पटिलाया कोर्ट ने सोमवार को रिजेक्ट कर दिया अदालत ने फांसी पर रोक से साफ़ साफ़ इनकार कर दिया है ।

Leave A Reply

Your email address will not be published.