विनोद खन्ना और फ़िरोज़ खान, सच्चे दोस्त थे जो एक साथ रहते थे और संयोग से एक ही तारीख में भी हुआ था निधन

बॉलीवुड में कैसे बंधन और दोस्ती नकली हैं, इस बारे में अनंत हमें पता भी हैं। लेकिन कुछ सेलिब्रिटी ऐसे हैं जो इस तरह की राजनयिक दुनिया से दूर रहे और दूसरों के लिए प्रेरणा बने। हां, विनोद खन्ना और फ़िरोज़ खान के बीच ऐसा ही एक बंधन था, जो शायद ही कभी हुआ हो, हम आमतौर पर बॉलीवुड में देखने को नहीं मिला हे ।

विनोद खन्ना और फ़िरोज़ खान, शंकर शंभू, कुर्बानी जैसी फ़िल्मों में एक साथ दिखाई दिए और अपने पदरसना के लिए खूब नाम भी कमाए । इस जोड़ी को दर्शकों का प्यार ढेर प्यार भी मिला और इन फिल्मों की वजह से दोनों के बीच असल जिंदगी की बॉन्डिंग भी काफी मजबूत हो गई।

एक समय ऐसा था , विनोद खन्ना बॉलीवुड में सबसे बड़े सुपरस्टार बनने की कगार पर थे, लेकिन उन्होंने अपने अभिनय करियर पर ब्रेक लगाने का फैसला किया और ओशो के आश्रम(Osho’s Ashram) में शामिल होकर अध्यात्म की दुनिया की ओर अपना ध्यान आकर्षित किया। कुछ समय वहां बिताने के बाद, फिरोज खान थे, जिन्होंने उन्हें दयावान की ऑफर दे कर उनके अभिनय करियर को फिर से मदद की।

संयोग से दोनों अभिनेताओं की मौत भी 27 अप्रैल के दिन ही दुखद मृत्यु हुई थी । 27 अप्रैल, 2009 को फेफड़े के कैंसर के कारण फ़िरोज़ खान की मृत्यु हो गई थी जबकि विनोद खन्ना का 27 अप्रैल 2017 को ब्लेडर कैंसर के कारण निधन हुआ था ।

Leave a Comment

Scroll to Top