भारत,चीन के बीच चल रही कड़वाहट के बीच अमेरिका ने तैनात किए सबसे घातक परमाणु बॉम्‍बर

2 448

लद्दाख, भारत और चीन के बीच चल रहे तनाव के बीच, अमेरिका ने डिएगो जॉर्जिया (Diego Garcia) में अपने घातक परमाणु बॉम्‍बर B2 को तैनात किए हैं। एक बम्बर 16 परमाणु बम ले जा सकता है और एक विमान के उड़ान भरने के बाद कई इलाके को निशाना बना सकता है। लगभग 29 घंटों तक उड़ान भरने के बाद, विमान अमेरिका से डिएगो गार्सिया में मिसौरी एयर बेस पहुंचे।

भारत और चीन के बीच लद्दाख में जारी तनाव थमने का नाम नहीं ले रहा है। दोनों देशों के वरिष्ठ अधिकारियों द्वारा किए गए समझौते के बावजूद, चीन पेंगोंग झील और देपसांग क्षेत्रों से अपने सैनिकों को वापस नहीं ले रहा है। यही नहीं, चीन भारत के सीमा क्षेत्र में अपना नया हवाई अड्डा बना रहा है।

यही नहीं, चीन ने लद्दाख के पास एक सैन्य अड्डे पर परमाणु मिसाइल DF-26 भी तैनात की है। चीन की मजबूत सैन्य तैयारियों का उचित जवाब देने अमेरिका ने भारत के निकटतम नौसैनिक अड्डे, डिएगो गार्सिया में परमाणु बमवर्षक तैनात किए हैं।

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप की दोस्ती चीन पर भारी पड़ने वाली है। लद्दाख में चीन द्वारा किए गए हरकत, अब चीन के लिए भरी पद सकता हे । क्योंकि अमेरिकी लड़ाकू जेट बी -2 हिंद महासागर में आ चुका है। और इसकी तैनाती के कारण चीन घबराया हुआ है।

हिंद महासागर में बी -2 बॉम्बर्स की तैनाती भारत और संयुक्त राज्य अमेरिका के लिए संयुक्त रूप से चीन को सबक सिखाने के लिए पर्याप्त है। अमेरिका के इस बी -2 बॉम्बर्स की सबसे बड़ी खूबी ये है कि इसे दुश्मन का कोई भी राडार पकड़ नहीं सकता।

ये भी पढ़े :-रूस की कोरोना वैक्सीन पर सारी दुनिया को यकीन नहीं हो रहा जानिए इसके क्या कारण हो सकते हैं

Leave A Reply

Your email address will not be published.