पंचायती राज दिवस के अवसर पर प्रधान मंत्री नरेंद्र मोदी ने ये दो प्रमुख परियोजनाएं शुरू की हे..

0 382

पंचायती राज दिवस के अवसर पर, प्रधान मंत्री नरेंद्र मोदी ने देश के सरपंचों के साथ एक वीडियो कॉन्फ्रेंस की।”प्रधानमंत्री के साथ वीडियो कॉन्फ्रेंस में पंचायती राज मंत्री नरेंद्र सिंह तोमर भी मौजूद थे। इस अवसर पर, प्रधान मंत्री ने ई-ग्राम स्वराज पोर्टल और ‘स्वामीत्व’ एक मोबाइल एप्लिकेशन का उद्घाटन भी किया हे।इस अवसर पर, प्रधान मंत्री मोदी ने दो प्रमुख परियोजनाएं, ई-ग्राम स्वराज एप्लिकेशन और ‘स्वामीत्व’ योजना शुरू कीं

उन्होंने कहा कि अब पुरे बिस्वा में करना का प्रकोप हे,ऐसे में हर देस अपना नागरिकों को बचाने में जुड़े हे और इसीलिए लकडाउन की परिस्तितिजैसा माहौल दिखने को मिल रही हे ,और कोरोनावायरस ने हमें आत्मनिर्भर होना सिखाया है। अन्यथा हम इस तरह की समस्या से निपटने में सक्षम नहीं होंगे। गाँव, जिला और राज्य को अपनी बुनियादी जरूरतों के लिए अपने स्तर पर आत्मनिर्भर होना चाहिए।

सम्मेलन की शुरुआत में, प्रधान मंत्री मोदी ने कहा कि कोरोनोवायरस महामारी ने दुनिया के काम करने के तरीके को बदल दिया है। हम आमने-सामने बात करते थे, लेकिन आज हम वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए कोरोनवीरस के कारण बात कर रहे हैं।

उन्होंने कहा कि देश भर में 100 से कम पंचायतों में ब्रॉडबैंड कनेक्शन थे। अब ब्रॉडबैंड कनेक्शन 1.5 मिलियन से अधिक ग्राम पंचायतों तक पहुंच चुके हैं। यही नहीं, गाँवों में कॉमन सर्विस सेंटरों की संख्या तीन लाख से अधिक हो गई है।

इतना बड़ा संकट जैसा वैश्विक महामारी आया है, लेकिन इन दो या तीन महीनों में हमने यह भी देखा है कि भारत के नागरिक सीमित संसाधनों के भीतर विभिन्न प्रकार के दुर्भाग्य पैदा करने के बजाय इसका सामना कर रहे हैं।

यह सच है कि बाधाएँ, कठिनाइयाँ हैं, लेकिन दृढ़ संकल्प के साथ, नई ताकत के साथ आगे बढ़ते हुए, नए रास्ते तलाशते हुए, देश को बचाने और देश को आगे बढ़ाने के लिए अनिबर्य परिश्रम करते जारहे हैं।

दुनिया को यह भी पता है कि क्रोनोवायरस संकट के दौरान देश के गांवों में रहने वाले लोग अपने सुधारों, अपनी परंपराओं से कैसे सीख रहे हैं। गांवों से अद्यतन महान विद्वानों के लिए भी प्रेरणादायक हैं।

Leave A Reply

Your email address will not be published.