सकारात्मक ऊर्जा बनी रहेने के लिए घर में जरूर रखें ये कछुआ शतप्रतिशत मिलेगा फायदा, जानिए कैसे कब और कहाँ इसको रखना है

0 485

हम लोग कछुए को भगवान विष्णु के रूप में मानते हैं क्यों की समुद्र मंथन के समय भगवान विष्णु ने कछुए का रूप लिया था । कहते ये भी हैं की जहाँ जिस घर में कछुआ होता है वहाँ लक्ष्मी जी का वास होता हैं जिस घर में कछुआ रखते हैं वहाँ कभी की धन लक्ष्मी की कमी नहीं आती है कछुए को हम घर में ही नहीं अपने दफ्तर में भी रख सकते हैं जहाँ पर हमारा व्यापार होता हैं वहाँ वास्तु के अनुसार अगर हम कछुआ रखे तो व्यापार में बहुत लाभ होता है । और लक्ष्मी का आगमन होता रहता है।

कछुआ हम अपने घर में वास्तिवक रखें या या किसी भी धातु का यदि हमने उसको वास्तु के अनुसार रखा है तो उचित परिणाम हमको अवश्य मिलता है अगर वास्तविक कछुआ नहीं मिले तो हम धातु का कछुआ भी ला सकते है अब बाजार में करीब करीब सभी धातुओं के कछुए मिल जाते हैं जैसे लोहे का ताम्बे का चांदी का टिन का कोई सा भी हम अपने घर ला सकते है पर एक बात का ख्याल रखना बहुत जरुरी होता हैं की कछुए को घर में सही दिशा में रखना बहुत जरुरी होता हैं तभी इसके हमको सकारात्मक परिणाम मिलते हैं अन्यथा इसको कही भी बिना वास्तु के हिसाब से अगर रख दिया जाये तो इसके परिणाम उलटे भी हो सकते हैं ।

कछुआ अगर वास्तु के हिसाब से सही दिशा में रखा जाये तो इसके बहुत लाभ होते हैं ये बात तो लगभग सभी लोग जानते है की कछुआ घर में रखने से धन लक्ष्मी का आशीर्वाद घर में बना रहता है और उस घर में कभी लक्ष्मी की धन की कमी नहीं आती है परंतु इसके कई सारे और भी लाभ है जो सभी को जानकारी नहीं है आइये हम इसके आपको और लाभ बताते हैं । घर में कछुआ रखने से न केवल धन प्राप्ति होती है बल्कि नकारात्मक ऊर्जा की भी समाप्ति होती है और परिवार के लोग स्वस्थ रहते हैं उनको किसी प्रकार की बीमारी का सामना नहीं करना पड़ता हैं बीमारिया कोसो दूर रहती है और परिवार के लोगो को दीर्घायु की प्राप्ति होती है । साथ ही ये आपको किसी भी क्षेत्र में सफलता दिलवाता हैं चाहे हम किसी किसी नौकरी के लिए कोशिश कर रहे हैं या किसी क्षेत्र में परीक्षा देनी हो अगर कछुआ हमारे घर में है और सही वास्तु के अनुसार है तो इन सब में आपको सफलता अवश्य मिलेगी । और साथ ही हमारे घर परिवार में सुख शांति बनी रहेगी ।

हम अपने दफ्तर दुकान या मिल्स के दफ्तर में में धातुओं का कछुआ वास्तु के अनुसार रख सकते हैं माना जाता है कि व्यापार कि जगहों पर जहाँ हमारी रोज़ी रोटी कमाने कि जगह है वहाँ पे चांदी का कछुआ रखना बेहद लाभकारी होता है इससे हमारा कामधंदा और व्यापार स्थिर रूप से चलता रहता है उसमे बार बार कमीबेसी नहीं होती है जिससे हमारा जीवन भी एक सामान सुचारु रूप से चलता रहता है। परन्तु कछुए रखने कि दिशा उचित होनी चाहिए नहीं तो इसका नकारात्मक और दुष्प्रभाव बहुत अधिक पड़ते हैं इसलिए हमको पहले उचित दिशा का पता होना आवशयक है कि किस दिशा में रखने पर इसके प्रभाव से हमको लाभ मिलेगा । कोई भी जगह हो अगर हमको लाभ लेना है तो किसी वास्तु कि दिशा जानने वाले से पहले उचित दिशा जान लेना चाहिए कि कछुए का मुख किस और होना चाहिए जैसे हमको घर में दिशा के अनुसार कछुआ रखना चाहिए वैसे ही ऑफिस या और कही भी दिशा के हिसाब से ही कछुए को रखना चाहिए तभी सकारात्मक ऊर्जा का प्रवाह होता है तथा घर और व्यापार में तरक्की होती रहती है, जीवन में प्रवाहित ऊर्जा नियंत्रित होती है।

जो धातुओं के कछुए आते हैं वो कई प्रकार के होते हैं जिनमे काले रंग का कछुआ व्यापार कि दृष्टि से शुभ माना जाता है अगर आप काले रंग का कछुआ लाते हैं तो उसको दफ्तर में सदैव उत्तर दिशा में रखे जिससे आपके व्यापार में तरक्की होगी और दिन प्रतिदिन व्यापार बढ़ेगा । और कही सही दिशा हमको नजर नहीं आती है तो कछुए को मुख्य द्वार पर या घर के पिछवाड़े में भी रख सकते हैं कछुए का मुँह घर की पूर्व दिशा में हो तो आत्यंतिक शुभ माना जाता है इस प्रकार रखने पर सकारात्मक ऊर्जा का संचार होता है घर में सुख शांति समृद्दि बानी रहती हैं और किसी के घर में यदि रोज़ रोज़ क्लेश होती है तो उसके लिए कछुए को घर में उचित दिशा में रखना बहुत लाभकारी होता है और जहाँ तक हो सके किसी भी धातु वाले कछुए को अगर आप घर में लाते हैं तो तो उसको जल के अंदर ही रखना चाहिए आपको बहुत अच्छे परिणाम मिलेंगे ।

ये भी पढ़े :-PM मोदी ने प्रशंसा करते हुए पत्र लिखकर की MS Dhoni की तारीफ तो माही ने कही ये बात

Leave A Reply

Your email address will not be published.