फिर धोका देरहा था ड्रैगन: पेंग झील के पास घुसपैठ करना चाहा पर भारतीय सेना की नजर पड़ी फिर…

0 323

नई दिल्ली: सीमा विवाद कुछ दिनों के अंतराल के बाद फिर से शुरू हो गया है। भारत-चीन की सेना सीमा पर भिड़ गई है। अभी तक कोई भी सही समाधान में भेजने में सक्षम नहीं था, जो अजीब नहीं है। यह अभी तक स्पष्ट नहीं है।

29 अगस्त की रात को भारत और चीन आपस में भिड़ गए। रिपोर्टों के अनुसार, चीनी सेना पेंग्यांग झील के पास घुसपैठ की कोशिश कर रही थी। लेकिन भारतीय सेना ने इसका कड़ा जवाब दिया है। दोनों पक्षों की झड़पों में कई सैनिक घायल हो गए। पर यह स्पष्ट नहीं है।

कुछ दिनों बाद लद्दाख के पूर्वी हिस्से में भारत-चीनी सेना के बीच झड़पें हुईं। शीत युद्ध के रूप में जाना जाने वाले कई जावानीस मारे गए और 40 से अधिक चीनी मारे गए। अब तक, हालांकि, यह चीनी पक्ष द्वारा स्पष्ट नहीं किया गया है कि कितने सैनिक मारे गए हैं। फिर दोनों देशों के बीच संघर्ष हुआ। भारत और चीन ने सीमा पर अशांति को देखते हुए सीमा पर अपने प्रयास तेज कर दिए हैं। दोनों देशों के वरिष्ठ अधिकारियों ने इस मुद्दे पर कई बार चर्चा की।

उत्साह को ठंडा करते हुए ड्रैगन ने एक बार फिर अपने धोखेबाज स्वभाव को दिखाया है। इस मुद्दे के अंत में भारत में पेंगुइन झील के नियंत्रण में हटाए गए प्रलय का दिन है। जिसका भारतीय सेना ने कड़ा विरोध किया था। बाद में, दोनों देशों के सैनिकों के बीच हिंसा की खबरें आईं। एक राष्ट्रीय मीडिया रिपोर्ट के अनुसार, यह घटना 29-30 मार्च की रात को हुई थी। धोखे का भारतीय सेना ने कड़ा जवाब दिया है। अभी तक कोई भी सही समाधान में भेजने में सक्षम नहीं था, जो स्पष्ट नहीं है।

Leave A Reply

Your email address will not be published.