जानिए केंद्र सरकार ने अपनी चार बड़ी घोषणाओं के साथ राष्ट्रीय भर्ती एजेंसी के बारे में क्या कहा है…

0 301

प्रधानमंत्री की अध्यक्षता में दो दिन कैबिनेट की बैठक हुई, जिसमें चार प्रस्तावों को मंजूरी दी गई। केंद्र सरकार ने गन्ने की खेती, बिजली क्षेत्र, हवाई अड्डों के साथ नौकरियों की तलाश कर रहे युवाओं के लिए यह निर्णय लिया है।

केंद्र सरकार ने गन्ना एफआरपी (FRP) में 10 रुपये प्रति क्विंटल की बढ़ोतरी की है। इससे लगभग 1 करोड़ गन्ना किसानों को फायदा होगा। इसका मतलब है 275 रुपये से 285 रुपये प्रति क्विंटल की बढ़ोतरी। केंद्रीय मंत्री ने कहा कि 10 प्रतिशत रिकवरी मामले में किसानों को पूरा पैसा मिलेगा। अगर 11 प्रतिशत बहाल हो जाता है, तो किसानों को अधिक पैसा मिलेगा। दूसरे शब्दों में, उन्हें 280.50 रुपये प्रति क्विंटल से अधिक मिलेगा। सरकार इथेनॉल भी खरीद रही है। पिछले साल सरकार ने 190 करोड़ लीटर इथेनॉल खरीदा, जिसकी कीमत लगभग 60 रुपये प्रति लीटर है।

कोरोना को बिजली के बिलों का भुगतान करने में देरी हुई है, जिससे बिजली वितरण कंपनियों को नकदी की समस्याओं का सामना करना पड़ा है, जिससे बिजली वितरण भी प्रभावित हुआ है। इसलिए इस कोरोना संकट के मद्देनजर कैबिनेट ने बिजली वितरण कंपनियों को बड़ी छूट दी है। सरकार ने घोषणा की है कि वह पीएफसी (PFC) और आरईसी (REC) के माध्यम से बिजली वितरण कंपनियों को ऋण प्रदान करेगी। इससे कंपनियों के लिए सस्ता कर्ज पाना आसान हो जाएगा।

कैबिनेट ने लगभग तीन हवाई अड्डों के निजीकरण को मंजूरी दी। कैबिनेट ने पीपीपी मॉडल के तहत जयपुर, गुवाहाटी और तिरुवनंतपुरम हवाई अड्डों को पट्टे पर देने का फैसला किया है। इन हवाई अड्डों को अगले 50 वर्षों के लिए पट्टे यानि लीज पर दिया जाएगा। नतीजतन, सरकार को तुरंत 1,070 करोड़ रुपये मिलेंगे, केंद्रीय मंत्री ने कहा। भारतीय विमानपत्तन प्राधिकरण (एएआई) छोटे शहरों में हवाई अड्डों के विकास के लिए धन का निवेश करेगा।

नौकरी की तलाश कर रहे युवाओं के लिए अच्छी खबर है। मोदी कैबिनेट ने एक राष्ट्रीय भर्ती एजेंसी स्थापित करने के प्रस्ताव को मंजूरी दी है, जो वर्ष में दो बार आयोजित की जाएगी। परीक्षण के लिए 1,000 परीक्षण केंद्र स्थापित किए जाएंगे। परीक्षा केंद्रों को जिला मुख्यालय पर बनाने का आदेश दिया गया है। यदि आपको इस परीक्षा के लिए आयु में छूट मिलती है, तो परीक्षा शुल्क पहले की तरह ही रहेगा। परीक्षा 12 भाषाओं में होगी और राष्ट्रीय भर्ती एजेंसी के मुख्यालय, दिल्ली में होगी। नौकरी पाने के लिए युवाओं को कई तरह की परीक्षा देनी पड़ती है, क्योंकि 20 भर्ती एजेंसियां ​​हैं। लेकिन अब नेशनल रिक्रूटमेंट एजेंसी टेस्ट लेगी, जिससे करोड़ों युवाओं को फायदा होगा।

ये भी पढ़े :-PM मोदी ने प्रशंसा करते हुए पत्र लिखकर की MS Dhoni की तारीफ तो माही ने कही ये बात

Leave A Reply

Your email address will not be published.