राजस्थान में वायरल ऑडियो स्कैंडल विवाद के बीच BSP प्रमुख मायावती ने दिया बड़ा बयान

1 318

राजस्थान में राजनीतिक विवाद के बीच, बहुजन समाजवादी पार्टी BSP प्रमुख मायावती सुप्रीमो मायावती ने विधायक के फोन टेपिंग को लेकर अशोक गहलोत की सरकार पर निशाना साधा है साथ ही उन्होंने राज्य में राष्ट्रपति शासन लागू करने की मांग की है।

उन्होंने कहा कि राजस्थान के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत, जिन्होंने विपक्षी कानून का उल्लंघन किया था और बसपा को धोखा दिया था, कांग्रेस में पार्टी विधायकों को शामिल किया था और अब एक और अवैध और असंवैधानिक कार्य भी किया।

मायावती ने यह भी कहा कि राजस्थान में चल रही राजनीतिक आपसी अशांति और अस्थिरता को राज्यपाल द्वारा गंभीरता से लिया जाना चाहिए और राष्ट्रपति शासन लागू करने की सलाह दी हे ताकि राज्य में लोकतंत्र के लिए और कोई समस्या न हो।

जैसा कि आप जानते हैं, भारतीय जनता पार्टी ने फोन टैप मामले में केंद्रीय जांच ब्यूरो (CBI) से जांच की मांग की है और कांग्रेस ने कई सवाल उठाए हैं। और हाल ही में कांग्रेस नेता रणदीप सिंह सुरजेवाला ने बागी विधायक और भाजपा के बीच हुई कुछ आडिओ क्लिप के बारे में बात की थी ।

कांग्रेस ने शुक्रवार को गहलोत सरकार को हटाने का आरोप लगाते हुए दो ऑडियो क्लिप के बाद केंद्रीय मंत्री शेखावत और बागी कांग्रेस विधायक भंबरलाल शर्मा की गिरफ्तारी की मांग की। शेखावत ने शुक्रवार को जारी बयान में आरोपों से इनकार किया,और कहा हे की ये आडिओ क्लिप मे मेरे आवाज़ नहीं हे और में किसी भी जांच का सामना करने के लिए तैयार हूँ।
ये भी पढ़े :-राजस्थान में कांग्रेस ने बड़ी कार्रवाई करते हुए बागी विधायक को पार्टी से किया निलंबित

Leave A Reply

Your email address will not be published.