एक आपदा धरती पे पहले से आयी हुई है कोरोना महामारी के रूप में, अब आरही है एक और आफत पृथ्वी के कक्ष में

0 1,499

एक आपदा धरती पे पहले से आयी हुई है कोरोना महामारी के रूप में, अब आरही है एक और आफत पृथ्वी के कक्ष में-

एक आपदा धरती पे पहले से आयी हुई है कोरोना महामारी के रूप में, अब आरही है एक और आफत – पृथ्वी के कक्ष में आरहा है एक बड़ा सा उल्कापिंड, कोरोना महामारी से आज पूरी दुनिया पेरशान है और उस पर से आसमानी आफ़तें आगे बढ़ बढ़ के हमको डरारही है अमरीकी स्पेस एजेंसी नासा ने बताया है कि अंतरिक्ष में एक उल्कापिंड पृथ्वी कि और काफी रफ़्तार से आगे बढ़ रहा है और इस उल्कापिंड का आकर आधा किलोमीटर तक बड़ा होने कि सम्भावना है और इसकी गति पृथ्वी कि और ५.२ किलोमीटर प्रति सेकंड नासा के द्वारा बताई जा रही है । और यही नहीं लगभग ५ ऐसे और उल्कापिंड है जो आने वाले समय में पृथ्वी की कक्षा में प्रवेश करंगे।

वैज्ञानिको द्वारा ये जानकरी मिली है की जो उल्कापिंड अभी पृथ्वी की कक्षा में प्रेवश करने वाला है वो प्रवेश तो करेगा परन्तु पृथ्वी पर ये न तो टकराएगा न ही गिरेगा । आने वाले ६ जून के दिन ये पृथ्वी के अत्यधिक करीब से होक गुजरेगा । ६ जून को पृथ्वी की कक्षा में प्रवेश करने वाले उल्कापिंड की लम्बाई करीब २५०-५० मीटर के आसपास होने की सम्भावना है और इसकी चौड़ाई १३५-१४० मीटर हो सकती है वैज्ञानिको का कहना है की ये उल्कापिंड पहले सूर्ये की कक्षा में प्रवेश करेगा फिर वहाँ से होते हुए ये पृथ्वी की कक्षा में जून माह की ६ तारीख के आसपास प्रवेश करेगा ।

also read this :-पृथ्वी के करीब से गुजरेंगे ऐस्टरॉइड, अगले 3 दिन होंगे बेहद खास, NASA की नजर

इससे पहले भी अभी हाल ही में २१ मई को पृथ्वी के निकट से एक उल्कापिंड होक गुजरा था। इसकी जानकारी मिलने के बाद भी लोगो में बहुत दहशत थी और वैज्ञानिको ने भी इसपर खासी नजर बना राखी थी, अमीरीकी स्पेस एजेंसी नासा द्वारा ये भी कहा गया है की रविवार ६ जून के दिन ये उल्कापिंड पृथ्वी के बेहद करीब से गुजरेगा उसके गुजरने के बाद अब लगभग ४ साल बाद ही कोई उल्कापिंड धरती के इतने पास होक जायेगा ।

अब जो भी उल्कापिंड धरती के इतने करीब से होक गुजरेगा वो समय २०२४ का वर्ष होगा । ये उल्कापिंड ५.२ किलोमीटर प्रति घण्टे की गति से पृथ्वी की और आगे बढ़ रहा है और ६ जून तक ये पृथ्वी की कक्षा में प्रवेश करेगा कुल मिला कर इसकी गति को जाने तो इस उल्कापिंड की वास्तविक गति ११२०० मील प्रति घंटा बताई जा रही है ।

ये भी पढ़े :-निर्दयी पति ने सुहाग रात के बाद ही दुल्हन बनायीं प्रेमिका को टुकड़ों में बांटा फिर ऐसे हुआ वो बेनकाब

Leave A Reply

Your email address will not be published.