अधिकारिओ का घिलौना चेहरा आया सामने, इस बजह से अंडा बेचने बाला 14 वर्षीय बच्चे की गाड़ी पलट दिया, फिर..

2 934

ये सच हे की करोना संकट ने दुनिया में बेरोजगारी और गरीबी बढ़ा दी है । इसका असंगठित क्षेत्र के श्रमिकों पर सीधा प्रभाव पड़ा है, जो परिवारों को सड़कों पर धकेलने को मजबूर किआ हैं । रिपोर्टें हैं कि कई प्रोफेसर, शिक्षक और अभिनेता बेरोजगारी के कारण फल और सब्जियां बेच रहे हैं । लेकिन जो वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल हुआ, उससे पता चलता है कि इस मुश्किल हालात में पैसा कमाना कितना मुश्किल है ।

रिपोर्ट हे अनुसार यह घटना इंदौर में हुई थी, जहां नगर निगमों की एक टीम ने बुधवार को पिपल्याहाना इलाके में एक 14 वर्षीय लड़के की अंडा गाड़ी को पलट दिया और सभी अंडे नीचे फेंक दिए ।

बायरल वीडियो में 14 साल की बच्चे ने आरोप लगाया की, नगर निगम की टीम गाड़ी में आई और कहा कि यहां से ठेला हटादो, या तो गाड़ी को सील करेंगे या यहां गाड़ी लगाने के लिए 100 रुपये की रिश्वत दो । उन्होंने गाड़ी पलट दी क्योंकि वे पैसा नहीं दिया । फिर गाड़ी के सभी अंडे जमीन पर गिर गए और फट गए ।

ये भी पढ़े: 4 साल की बेटी को बचाने के लिए मां ने किडनैपर्स से लड़ाई की, देखें ये VIDEO

नगर निगम आयोग की प्रतिभा पाल ने गुरुवार को अतिरिक्त आयुक्त देवेंद्र सिंह को घटना का वीडियो वायरल होने के बाद इस घटना की जांच करने का निर्देश दिया, जिसके बाद बच्चे और उसके दादा का बयान दर्ज किया गया । देवेंद्र सिंह ने कहा कि लड़के के दादा विजय रायकर सड़क पर अंडे बेच रहे थे । हालांकि, उनके पोते का स्कूल बंद था इसलिए बह भी बेच रहा था । दोनों ने कहा कि अधिकारिओं ने बुधवार को उनके साथ दुर्व्यवहार किया और उनके साथ मारपीट की और अंडे फेक दिए ।

Leave A Reply

Your email address will not be published.